February 2, 2023

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

मुख्य विकास अधिकारी द्वारा जल जीवन मिशन के योजनाओं की गूगल मीट के माध्यम से की गयी समीक्षा

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन देवरिया

     देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जिले मे मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा जल जीवन मिशन के योजनाओं की गूगल मीट के माध्यम से समीक्षा की गयी, जिसमें अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा अवगत कराया गया कि मे०एल०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० 247 नग परियोजनाओं का कार्य प्रारम्भ करा दिया है, जिसमें पम्प हाऊस 130 नग, शिरोपरि जलाशय 146 नग का कार्य प्रगति पर है, 1071.00 कि०मी० पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 50095 नग कनेक्शन कर दिये गये ह, मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि0 द्वारा 196 नगपरियोजना का कार्य प्रारम्भ कराया गया है, जिसमें पम्प हाऊस 97 नग, शिरोपरि जलाशय 58 नग का कार्य प्रगति पर है. 955.00 कि0मी0 पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 46050 नग कनेक्शन कर दिये गये हैं एवं मे० रित्विक कोया द्वारा निर्धारित लक्ष्य 260 ग्राम पंचायत के सापेक्ष मात्र 167 डी०पी०आर० बनाये है। उक्त के सम्बन्ध में अवगत कराना है कि समस्त शेष आवंटित ग्राम पंचायतों के डी०पी०आर० तैयार कर साइन कराते हुए DWSM की बैठक में सम्मिलित किया जाये। उपरोक्त तीनों फर्मों को निर्देशित किया गया कि समस्त (SLSSC से स्वीकृत DPR का Cover Agreement कराये एवं जितनी योजनाओं के Cover Agreement पूर्ण हो चुके हैं उन पर कार्य कराना सुनिश्चित करें। मे0 रित्विक कोया को वर्तमान तक 28 भूमि उपलब्ध न होने पर फर्म के प्रोजेक्ट मैनेजर श्री भानु प्रसाद रेड्डी एवं डिस्ट्रिक कोआर्डिनेटर DPMU को संबंधित उप जिलाधिकार
सम्पर्क स्थापित करते हुए भूमि की उपलब्धता बढ़ाने हेतु निर्देशित किया गया एवं उपलब्ध भूमि की DPR एक सप्ताह के अन्दर तैयार कराकर DWSM कराने के निर्देश दिये गये । उप जिलाधिकारी, बरहज द्वारा अवगत कराया गया कि तहसील – बरहज के अन्तर्गत 13 योजनाओं की अनुपलब्ध भूमि में से 07 नग भूमि उपलब्ध हो चुकी है, शेष भूमि भी शीघ्र उपलब्ध करा दी जायेगी। उप जिलाधिकारी देवरिया सदर, रूद्रपुर, सलेमपुर द्वारा अवगत कराया गया कि तहसील अन्तर्गत अनुपलब्ध भूमि क्रमशः 8, 3 व 4 हेतु भूमि आगामी 03 दिवस में उपलब्ध करा दिया जायेगा। संबंधित कार्यद संस्थाओं को निर्देशित किया गया कि संबंधित उप जिलाधिकारी से सम्पर्क कर भूमि चिन्हित कराते हुए आवश्यक कार्यवाही करें।
मे० एली०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० को 5.00 कि०मी० पाइप लाइन बिछाने एवं FHTC 5000 नग कराने व मे० गायत्री प्राजेक्ट लि0 5.00 कि0मी0 पाइप लाइन बिछाने एवं FHTC 5000 नग प्रतिदिन करना अनिवार्य है, वहीं FHTC की प्रगति धीमी होने पर नाराजगी व्यक्त की गयी, जिस पर मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि० प्रोजेक्ट मैनजर अनिल कुमार यादव व मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० प्रोजेक्ट मैनेजर रामानुज तिवारी ने FHTC की प्रगति बढ़ाने के लिए एक सप्ताह का समय मांगा है। मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० को पूर्व के अतिरिक्त 5 परियोजनाएं व मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि0 के 5 परियोजनाएं 31/01/2023 तक पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही ईंट की क्वालिटी एवं कार्य स्थल पर तराई की उचित व्यवस्था न पाये जाने एवं कार्य की गुणवत्ता पर प्रतिकूल प्रभाव पडने पर नाराजगी व्यक्त की गयी ।
मुख्य विकास अधिकारी द्वारा धीमी प्रगति होने के कारण तीनों फर्मों को अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा नोटिस देने का निर्देश दिये गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2022-2023 Top1 India News | Newsphere by AF themes.
Translate »