December 6, 2022

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

तबाही की नई इबारत लिखने को बेताब सरयू का पानी

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन ब्यूरो चीफ देवरिया

     देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जिले के भागलपुर सरयू नदी का विकराल रूप देख प्रलयकारी बाढ़ की विभीषिका से मचने वाली तबाही का दृश्य सोच कर लोगों में सिहरन पैदा हो रहा है। अक्टूबर माह में दशहरा के बाद से नदियों में जहां धीरे-धीरे रेत होना चाहिए वहां सरयू का विकराल रूप आश्चर्यचकित करने वाला है और इस तरह सरयू में उफान अब तक के इतिहास में शायद पहली बार देखने को मिल रहा है। सरयू नदी का पानी भागलपुर चौराहा के सड़क पर दक्षिण तक पहुंच गया है।

बरठा-बरेजी मार्ग बंद सुरक्षित ठिकानों की खोज में ग्रामीण

भागलपुर छित्तरपुर बांधे पर नदी का दबाव बना हुआ है। मईल चौराहा स्थित पंजाब नेशनल बैंक में पानी घुस गया है। शाखा प्रबंधक अरुण कुमार सिंह अपनी टीम के साथ अभिलेख और उपकरण सुरक्षित स्थान पर रख दिया है। मईल से बरहज राम जानकी मार्ग पर अनेक स्थानों पर बाढ़ का पानी ओवर फ्लो हो गया है। महर्षि योगीराज देवरहा बाबा आश्रम मईल में बाढ़ का पानी घुस कर अपने आगोश में ले लिया है। यहां जाने के लिए प्रशासन ने नाव की व्यवस्था किया है। सबसे खराब स्थिति भागलपुर ब्लाक क्षेत्र के बकुची, बरेजी,ज्ञान छपरा , डेवढ़ी, अड़िला, गहिला, अकुबा आदि गाँवो की है।है। यह गांव चारों तरफ से बाढ़ के पानी से घिर गए हैं। पैना से कटियारी सतरांव, बरठा बरेजी, अडिला अकुवा गहिला सतराव मार्ग पानी से डूब गया है। इसके अलावा नरियाव, बगहां, गोंडवली, पिपरा दवन, बगहीं, मईल, आदि गावों में बाढ़ का पानी दबाव बना रहा है। मईल गांव में भी पानी घुस गया है। गांव में ग्रामीण अपनी मवेशियों के साथ सुरक्षित ठिकानों पर शरण ले रहे हैं। सरयू की बाढ़ का पानी धरहरा • चुरिया तटबंध पर दबाव बनाए हुए है। तहसील और पुलिस प्रशासन बाढ़ की स्थिति पर भाग-दौड़ कर नजर रखे हुए है। पल की सूचना जिले के कंट्रोल रूम को दिया जा रहा है। एल आई यू की टीम भी अपनी नजर डाले हुए है।वर्ष 1998 के प्रलयंकारी बाढ़ की विभीषिका की तरह इतिहास में पहली बार अक्टूबर माह में विकराल सरयू नई इबारत लिखने के लिए बेताब नजर आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright ©2022-2023 Top1 India News | Newsphere by AF themes.
Translate »