November 27, 2022

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

चिकित्सकों के रिक्त पदों को संविदा के आधार पर तत्काल भरने का दिया निर्देश

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन ब्यूरो चीफ देवरिया

   देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जनपद मे उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने आज विकास भवन स्थित गाँधी सभागार में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सरकार समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के उन्नयन के लिए प्रतिबद्ध है। सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों को ही मिले।
समीक्षा बैठक में उप मुख्यमंत्री ने जनपद में चिकित्सकों के रिक्त पदों को संविदा के आधार पर तत्काल भरने का निर्देश सीएमओ को दिया। जनपद में 206 चिकित्सकों के चिकित्सकों के स्वीकृत पदों के सापेक्ष 137 स्थायी चिकित्सक एवं 52 संविदा चिकित्सक कार्यरत है।
उप मुख्यमंत्री ने सीएमओ, डिप्टी सीएमओ एवं समस्त एसीएमओ को भी मरीजों को देखने का निर्देश दिया। उन्होंने हैल्थ वेलनेस सेन्टर में संजीवनी एप के माध्यम से टेलीमेडिसिन सेवा को प्रोत्साहन देने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि संजीवनी एप के माध्यम से देवरिया के व्यक्ति प्रदेश या देश के विख्यात चिकित्सकों से परामर्श प्राप्त कर सकता है।
उप मुख्यमंत्री ने आयुष्मान कार्ड बनाने की भी समीक्षा की। उन्होने कहा कि प्रत्येक आशा प्रतिदिन 20 से 25 आयुष्मान कार्ड बनायें एवं सरकार की जन कल्याणकारी योजना का लाभ गरीब लोगो तक पहुॅचायें। उन्हांेने कहा कि जिला अस्पताल में शुगर, रैबीज व टिटनेस सहित अन्य सभी ऐसी दवाओं की ससमय खरीद सुनिश्चित कर ली जाए, जिनका स्टाक कम है। साथ ही गौरी बाजार सीएचसी के उन्नयन का निर्देश दिया।
उप मुख्यमंत्री ने जनपद में पर्यटन सर्किट विकसित करने पर जोर दिया। उन्होने कहा कि जनपद के प्रमुख पर्यटन स्थल जैसे कि देवरहा बाबा आश्रम, दीर्घेश्वर नाथ मंदिर, दुग्धेश्वर नाथ मंदिर एवं शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी स्मारक को पर्यटन मानचित्र पर लाने की योजना बनायी जाये।
ओडीओपी योजना की समीक्षा करते हुए उन्होने कहा कि जनपद में एक ओडीओपी उत्पादों को समर्पित व्यवसायिक केन्द्र स्थापित किया जाये, जहां पर लोग ओडीओपी उत्पादों को एक छत के नीचे खरीद सके।
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्युत विभाग द्वारा लोकल फॉल्ट को समय से दुरुस्त किया जाए। उन्होने निर्धारित अवधि में खराब ट्रांसफार्मर बदलने का निर्देश दिया। उन्होंने खतरनाक तरीके से लटकने वाले बिजली के तारों को चिन्हित कर शीघ्र ही बदलने का निर्देश दिया।
उप मुख्यमंत्री ने निराश्रित गो-वंश संरक्षण के लिए किए जा रहे प्रयासों को और प्रभावी बनाने की आवश्यकता पर बल दिया। वर्तमान समय मे जनपद के कुल 41 गो-आश्रय स्थलों में 3517 गो-वंश संरक्षित हैं। 2,87,886 गो-वंशीय पशुओं की ईयर टैगिंग हो चुकी है।
उप मुख्यमंत्री ने जल जीवन मिशन, मुख्यमंत्री सुमंगला योजना, अमृत सरोवर योजना, सामूहिक विवाह योजना, वृद्धापेंशन योजना, टेबलेट वितरण, व्यक्तिगत शौचालय, सामूहिक शौचालय, खाद्यान्न वितरण, पीएम किसान सम्मान निधि योजना सहित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। उन्होने समस्त योजनाओं को शासन की मंशा के अनुरुप समाज के अंतिम पायदान पर खडे व्यक्ति के हित में पूरी निष्ठा एवं गुणवत्ता के साथ क्रियान्वित करने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने उप मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिये गए निर्देशों का पालन किया जाएगा।
समीक्षा बैठक में सदर सांसद डा रमापति राम त्रिपाठी, सदर विधायक शलभ मणि त्रिपाठी, रुद्रपुर विधायक जय प्रकाश निषाद, बरहज विधायक दीपक मिश्रा शाका, पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, सीडीओ रवींद्र कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डा राजेश झा, प्रधानाचार्य मेडिकल कालेज डा राजेश बरनवाल, एडीएम प्रशासन गौरव श्रीवास्तव, सीएमएस डा एएन वर्मा, डीसी मनरेगा बीएस राय, डीपीओ कृष्णकांत राय, डीपीआरओ अविनाश कुमार, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी आरके सिंह, अधिशासी अभियंता विद्युत राम सेवक राम, अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण विभाग अबरार अहमद, अधिशासी अभियंता सिंचाई डीके गर्ग, अधिशासी अभियंता बाढ़ एनके जाडिया, डीएसटीओ मनोज श्रीवास्तव, सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2022-2023 Top1 India News | Newsphere by AF themes.
Translate »