February 1, 2023

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

देवरिया जिले के सामुदायिक केंद्र लार में चाकू के टुकड़े को निकाले बिना लगाया टांका

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन देवरिया

हालत बिगड़ने पर किया रेफर, केजीएमयू के

      देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों की लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर ने घायल मरीज के सीने में फंसे चाकू के टूटे हिस्से को निकाले बिना ही टांका लगा दिया और रेफर कर दिया।
सीएमओ का कहना है कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। लार नगर पंचायत के नई बस्ती इंदिरा नगर में पिछले साल 24 दिसम्बर को घर का गन्दा पानी बहाने के विवाद में दो पक्षों में मारपीट हुई थी। इस दौरान एक पक्ष के हसमुद्दीन को चाकू लगा था। घायल हसमुद्दीन को इलाज के लिए परिजन सामुदायिक
स्वास्थ्य केंद्र ले गए थे। जहां ड्यूटी पर तैनात डॉक्टरों ने हसमुद्दीन के छाती में धंसे टूटे चाकू को निकाले बिना ही टांका
लगा कर मरहम पट्टी कर दिया और जिला अस्पताल रेफर कर दिया।
जिला अस्पताल में भी डॉक्टरों ने गम्भीर हालत देखकर गोरखपुर मेडिकल कालेज भेज दिया। वहां से भी डॉक्टरों ने
लखनऊ ले जाने की सलाह दी।केजीएमयू में जांच के दौरान हुआ खुलासा परिजन घायल हसमुद्दीन को लेकर लखनऊ स्थित केजीएमयू पहुंचे। परीक्षण के दौरान घायल के सीने में चाकू के टूटे हिस्से की फंसे होने की जानकारी मिली। इस पर डॉक्टरों ने टांका काटकर ऑपरेशन कर चाकू के टूटे टुकड़े को निकाला। अभी
घायल की हालत गंभीर बताई जा रही है।
सीएचसी अधीक्षक बोले- जांच कर होगी कार्रवाई मामले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लार के अधीक्षक डॉ. बीबी सिंह का कहना है कि यह बड़ी लापरवाही है। किसकी ड्यूटी थी पता किया जा रहा है। संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं, CMO डॉ. राजेश ओझा ने अनभिज्ञता जताया है। कहा कि इस मामले में सीएचसी, जिला अस्पताल और बीआरडी मेडिकल कॉलेज तक इलाज के लिए ले जाया गया है। कई इंस्टीट्यूशन इन्वॉल्व हैं। मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2022-2023 Top1 India News | Newsphere by AF themes.
Translate »