November 27, 2022

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

13 नवंबर को मईल थाना का घेराव करेंगे पत्रकार

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन देवरिया

      देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जिले मे पत्रकार डाक्टर जनार्दन कुशवाहा पर प्राणघातक हमला कर उनकी जान लेने की कोशिश करने वाले आधा दर्जन से अधिक अज्ञात नकाबपोश बदमाशों को गिरफ्तार करने,घटना की लीपापोती करने के लिए हल्की धाराओं में मुकदमा दर्ज करने, बरहज थाना में तैनात गांव के हल्का सिपाही को निलंबित करने और पूरे मामले मे मईल पुलिस की लापरवाही आदि को लेकर आक्रोशित जनपद सहित अन्य जनपदों के पत्रकार आगामी 13 नवंबर, दिन रविवार, समय 11 बजे, से मईल थाना का घेराव करेंगे। पत्रकारों ने अपने आंदोलन की सूचना बरहज के उपजिलाधिकारी बरहज के द्वारा ज्ञापन के माध्यम से जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक देवरिया को दे दिया है।

एसडीएम की अनुपस्थिति में तहसीलदार बरहज ने ज्ञापन लिया

क्या है पूरा मामला👇

आपको बताते चले की 10 अक्टूबर को सायंकाल डाक्टर जनार्दन कुशवाहा मईल थाना क्षेत्र के तेलियाकला स्थित मेडिकल स्टोर से सलेमपुर अपने आवास के लिए जा रहे थे कि तभी बरेजी- बरठा मार्ग पर उनकी हत्या करने के लिए पूर्व से घात लगाकर बैठे आधा दर्जन से अधिक अज्ञात नकाबपोश बदमाशों ने हमला बोल दिया। हेलमेट पहने होने के कारण उनकी जान बच गई। घटना को अंजाम देने से पहले हमलावरों ने बकायदा उनकी रेकी किया । मईल पुलिस ने इस मामले में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज करने की बजाय हल्की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर हमलावरों को खुले में घूमने की क्लीन चिट दे दिया है। धीरे-धीरे इस मामले में कानाफूसी शुरू हुई और बात खुली तब पीड़ित पत्रकार ने रेकी करने और घटना में शामिल एक गांव के संदिग्ध युवक का नाम विवेचक को बताया। बरहज थाना में तैनात मौनागढ़व का हल्का सिपाही इन्द्रकेश चौहान गांव में पत्रकार के विरोधियों से मिला हुआ है। पीड़ित पत्रकार ने सिपाही की विरोधी गतिविधियों की लिखित शिकायत पुलिस अधीक्षक देवरिया संकल्प शर्मा से करके सिपाही के खिलाफ कार्रवाई की मांग किया है। मईल पुलिस ने संदिग्ध युवक से पूछताछ किया होता और घटनास्थल पर मोबाइल लोकेशन ट्रेस किया होता तो अबतक घटना का पर्दाफाश हो गया होता और नकाबपोश बदमाशों का चेहरा बेनकाब हो गया होता। बीते रविवार को पत्रकार एन डी देहाती और विपुल तिवारी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल जिसमें दिलीप कुमार मल्ल, उदय प्रताप सिंह, संतोष सिंह, सुशील सिंह, वरूण मिश्र, रामू यादव, सी पी शुक्ला, रविशंकर तिवारी,गोपेश कुमार, सूरज सिंह, त्रिशूल तिवारी,सुधेन्द्र पाण्डेय, कन्हैयालाल तिवारी आदि ने थानाध्यक्ष मईल से मुलाकात किया, राष्ट्रीय चेतावनी दिया था कि यदि शनिवार तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई तो आगामी रविवार को मईल थाना का घेराव और आंदोलन किया जाएगा। 6 नवंबर को पत्रकार एसोसिएशन के राष्ट्रीय संयोजक सत्य प्रकाश पाण्डेय के नेतृत्व मे जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक देवरिया को सम्बोधित ज्ञापन एसडीएम बरहज के माध्यम से दिया है। पत्रकार डाक्टर जनार्दन कुशवाहा को न्याय दिलाने के लिए 13 नवंबर को मईल थाना घेराव में पत्रकारों से पहुचनें की अपील किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2022-2023 Top1 India News | Newsphere by AF themes.
Translate »