December 6, 2022

Top1 india news

No. 1 News Portal of India

विधुत मजदूर संगठन व संविदा मजदूर संगठन के नेता आर एस राय ने किया आवश्यक बैठक

1 min read

रिपोर्ट – सद्दाम हुसैन ब्यूरो चीफ देवरिया

   देवरिया: (उ0प्र0) देवरिया जनपद मे विद्युत मज़दूर संगठन उप्र एवं विद्युत संबिदा मज़दूर संगठन उप्र के प्रमुख पदाधिकारियों की एक आवश्यक बैठक आज वरिष्ठ मज़दूर नेता आर एस राय की अध्यक्षता मे संगठन कार्यालय हमबरा अपार्टमेंट,श्यामा चौराहा नरही लखनऊ में सम्पन्न हुई।बैठक में संगठन के संरक्षक अरुण कुमार,मुख्य महामंत्री अजय भट्टाचार्य,संविदा संगठन के संयोजक पुनीत राय,इ आर पी गुप्ता,आर वाई शुक्ला,शैलेंद्र कुमार,कन्हई लाल,जे पी पांडे, बसंत लाल अशोक सिंह,नितिन निगम,आशीष कुमार,वृजलाल गुप्ता,मो०अली,मो०इमरान,अनूप सिंह,निशांत शुक्ला,बी पी पान्डे तथा श्याम सिंह आदि प्रमुख पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में माँग की गई कि त्योहारों को देखते हुए केंद्र सरकार की भाँति पेंशनधारियों सहित विद्युत कर्मियों के लिए महंगाई भत्ता में 4 % बढ़ोतरी का आदेश जारी किया जाए तथा दीपावली के पूर्व बोनस का आदेश जारी करते हुए भुगतान किया जाए।चेयरमैन के आदेश के बावजूद संविदा कर्मियों को हर माह के प्रथम सप्ताह में वेतन का भुगतान किए जाने के बजाय दो से तीन माह का वेतन बकाया रखने पर आक्रोश ब्यक्त किया गया।वरिष्ठ मज़दूर नेता आर एस राय ने संबोधन में कहा कि बरेली,शाहजहाँपुर,पीलीभीत,कुशीनगर,देवरिया रामपुर,झाँसी, सहारनपुर,मेरठ सहित तमाम ज़िलों में संविदा कर्मियों द्वारा बकाया वेतन के लिए धरना प्रदर्शन किये जाने से स्पष्ट है कि चेयरमैन के आदेशों की अवहेलना करके अधिकारियों द्वारा आठ नौ हज़ार रुपये अल्प वेतन पाने वाले संविदा कर्मियों के साथ घोर भेदभाव और अन्यान्य किया जा रहा है ।बैठक में त्योहारों के समय बिजली आपूर्ति ब्यवधान रहित बनाए रखने के निश्चय के साथ ही वर्ष 2012 में टीजी 2 के पद पर पदोन्नति पाए कर्मियों की ज्येष्ठता वर्ष 2013 मे नियुक्त टीजी2 के नीचे रख कर कर जारी की गई ज्येष्ठता सूची को निरस्त किए जाने ,कार्यालय कर्मियों और टीजी2 को उचित टाईम स्केल दिए जाने और वेतन विसंगति की कमियों को दूर किए जाने तथा संविदा कर्मियों का वेतन न्यूनतम 22 हज़ार से 25 हज़ार किए जाने अथवा सैनिक कल्याण निगम द्वारा बिजली घरों पर नियुक्त किए गए टीजी2 के बराबर दिए जाने सहित विद्युत आघात से मृतक संविदा कर्मियों के आश्रित को 20 लाख का मुआवजा दिए जाने और संविदा कर्मियों का सेवाकाल नियमित कर्मचारी की तरह 60 वर्ष किए जाने की माँगं की गई, मीडिया प्रभारी विमल चन्द्र पान्डे ने बताया बिजली कर्मचारियों और संविदा कर्मियों की माँगों के समाधान न होने कि दशा में जनहित का ध्यान रखते हुए दशहरा के बाद और दीपावली के पूर्व सरकार और प्रबंधन के ध्यानाकर्षण हेतु 18 अक्टूबर को एक दिन का प्रदेशव्यापी कार्य वहिष्कार विद्युत मज़दूर संगठन उप्र एवं विद्युत संविदा मज़दूर संगठन उप्र द्वारा संयुक्त रूप से करने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright ©2022-2023 Top1 India News | Newsphere by AF themes.
Translate »